कड़वा सत्य

संजय जैन 
मुम्बई(महाराष्ट्र)

************************************************

मुँह पर कड़वा बोलने वाले लोग,
कभी धोखा नहीं देते।
डरना तो हमें…
मीठा बोलने वालों से चाहिए,
जो साथ रहते हुए भी कभी साथ नहीं होते।

जो दिल में नफरत पालते हैं,
और वक़्त के साथ बदल जाते हैं।
ऊपर से तो आपके साथ होते हैं,
अंदर से आपको काटते हैं…
ऐसे ही लोग मीठे बोलने वाले होते हैं।

शीशा कमज़ोर बहुत होता है,
मगर सच दिखाने से घबराता नहीं है।
इसलिए ही अक्सर लोग गुस्से में
शीशा को तोड़ दिया करते हैं,
और शीशा टूटकर भी सच नहीं छुपता है॥

परिचय-संजय जैन बीना (जिला सागर, मध्यप्रदेश) के रहने वाले हैं। वर्तमान में मुम्बई में कार्यरत हैं। आपकी जन्म तारीख १९ नवम्बर १९६५ और जन्मस्थल भी बीना ही है। करीब २५ साल से बम्बई में निजी संस्थान में व्यवसायिक प्रबंधक के पद पर कार्यरत हैं। आपकी शिक्षा वाणिज्य में स्नातकोत्तर के साथ ही निर्यात प्रबंधन की भी शैक्षणिक योग्यता है। संजय जैन को बचपन से ही लिखना-पढ़ने का बहुत शौक था,इसलिए लेखन में सक्रिय हैं। आपकी रचनाएं बहुत सारे अखबारों-पत्रिकाओं में प्रकाशित होती रहती हैं। अपनी लेखनी का कमाल कई मंचों पर भी दिखाने के करण कई सामाजिक संस्थाओं द्वारा इनको सम्मानित किया जा चुका है। मुम्बई के एक प्रसिद्ध अखबार में ब्लॉग भी लिखते हैं। लिखने के शौक के कारण आप सामाजिक गतिविधियों और संस्थाओं में भी हमेशा सक्रिय हैं। लिखने का उद्देश्य मन का शौक और हिंदी को प्रचारित करना है।

Hits: 17

आपकी प्रतिक्रिया दें.