बुजुर्गों का कहना मान

नवीन कुमार भट्ट `नीर`
मझगवाँ(मध्यप्रदेश) 

*************************************************************

बुजुर्गों का कहना मान।
इनसे मत होना अनजानll
ये हरदम सही रास्ता देते।
नहीं किसी से बदला लेतेll

ये घर की मर्यादा बतलाती।
नई बहू को कुछ सिखलातीll
प्यारी बिटिया न्यारी बिटिया।
घर की लाज बचाती बिटियाll

आने वाली पीढ़ी हो तुम।
हर्ष बनाती सीढ़ी हो तुमll
भूल न जाना ममता मेरी।
नेक काम पे करो न देरीll

परिचय-नवीन कुमार भट्ट का उपनाम `नीर` हैl इनकी जन्मतिथि १८ मई १९९३ हैl वर्तमान में आपका निवास मध्यप्रदेश ग्राम मझगवाँ पो.सरसवाही (जिला-उमरिया) में हैl आपकी लेखन विधा-कविता हैl आप फिलहाल डी.एल-एड की तैयारी (आईटीआई) कर रहे हैंl कुछ कविताओं का प्रकाशन साप्ताहिक सहित दैनिक अखबारों में भी हुआ हैl श्री भट्ट को भावश्री,सत्यश्री सम्मान (वर्धा)तथा नरहरि सम्मान (रायबरेली) मिला हैl

Hits: 12

आपकी प्रतिक्रिया दें.