दोहा

4 views

सबसे महँगा भाईचारा आज 

वकील कुशवाहा `आकाश महेशपुरी` कुशीनगर(उत्तर प्रदेश) ********************************************************************* धन असली है खो रहा,यह पूरा संसार। नाम कहूँ तो पेड़...

14 views

अंधी है सरकार 

ओम अग्रवाल ‘बबुआ’ मुंबई(महाराष्ट्र) ******************************************************************‘  सरेआम बिकने लगे,देखो दूल्हे आज। बबुआ तन को बेचते,तनिक न आवे लाज॥ शर्म-हया...

188 views

शहीद

पवन गौतम ‘बमूलिया’ बाराँ (राजस्थान) ************************************************************************** (झालावाड़ के शहीद मुकुट बिहारी मीना को श्रदांजलि) हाड़ाओं की जननी का...

43 views

बारिश

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** देखो सावन झूम के,आई है इस बार। रिमझिम बरसे बारिशें,सुन्दर पड़े...

11 views

अच्छी बातें सोचिए

वकील कुशवाहा `आकाश महेशपुरी` कुशीनगर(उत्तर प्रदेश) ********************************************************************* जिसके डर से सौ कदम,रहती चिन्ता दूर। कहते उसको कर्म हैं,दुख...

44 views

सावन……………………

संध्या चतुर्वेदी 'तृप्ति' अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** महीना सावन आ गया,रिमझिम है चहुँओर। पेड़ों पर फल लद गए,नाचे वन में...

366 views

बोली से मालूम हो कद की नाप

वकील कुशवाहा `आकाश महेशपुरी` कुशीनगर(उत्तर प्रदेश) ********************************************************************* वे जग में हैं मर चुके,सत्य न जिनके संग। बिन डोरी...

21 views

धरती बहुत महान

वकील कुशवाहा `आकाश महेशपुरी` कुशीनगर(उत्तर प्रदेश) ********************************************************************* चाहे धूप कठोर हो,या जलता हो पाँव। काम-धाम करते सदा,वे ही...

58 views

भर दो विमल प्रकाश

पवन कुमार ‘पवन’  सीतापुर(उत्तर प्रदेश) ****************************************************** गुरु पूर्णिमा विशेष……………………………. श्रीगुरु मुख दिनकर सदृश,विस्तृत हृदयाकाश। मम उर का तम...

32 views

प्रेम भाव घर में अगर……

वकील कुशवाहा `आकाश महेशपुरी` कुशीनगर(उत्तर प्रदेश) ********************************************************************* थोड़ा कम भोजन करें,काम करें भरपूर। निर्धनता इससे डरे,रोग रहें सब...