धर्मदर्शन

51 views

नारी का संपूर्ण स्वरूप ही नवदुर्गा

प्रो.स्वप्निल व्यास इंदौर(मध्यप्रदेश) **************************************************** सच्चाई तो यही है कि नवदुर्गा नारी के नौ स्वरूप महिलाओं के पूरे जीवनचक्र...

42 views

नवरात्र-शक्ति-आराधना

दुर्गेश कुमार मेघवाल ‘डी.कुमार’ बूंदी (राजस्थान) ****************************************************************** सर्व अमंगल,मंगलकारी,दुःख पीड़ा से तारणहारी। जग तम में तू ही उजियारी,जीव...

110 views

संजा व्रत और मालवी गीत की घटती परम्परा

विनोद वर्मा `आज़ाद` देपालपुर (मध्य प्रदेश)  ************************************************ मालवा के दूरस्थ अंचलों तक भारतीय बालाओं की संस्कृति और संस्कार...

85 views

श्राद्ध और ब्राह्मण भोज

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ******************************************************************  आजकल एक नया फैशन और नई सोच समाज में तेजी से बढ़...

71 views

जीवन का सर्वांगीण विकास श्रीकृष्ण के उपदेशों में

सत्यम सिंह बघेल लखनऊ (उत्तरप्रदेश) *********************************************************** जीवन का सर्वांगीण विकास हम भगवान श्री कृष्ण में पाते हैं। कर्म...

53 views

भक्ति गीत

विजयकान्त द्विवेदी नई मुम्बई (महाराष्ट्र) ********************************************** तन तो ठाकुर द्वारे आया मन में लिए अभिमानl  कृपा तुम्हारी कैसे...

148 views

दर्शनीय स्थल:जतमाई धाम

वीरेन्द्र कुमार साहू गरियाबंद (छत्तीसगढ़) ****************************************************** छत्तीसगढ़ प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण प्रदेश है। यहाँ की हरी-भरी वादियाँ लोगों...

77 views

कावड़ियों द्वारा हिंसा:पुलिस बेबस

डॉ.अरविन्द जैन भोपाल(मध्यप्रदेश) ***************************************************** यही अंतर है स्वतंत्रता और स्वच्छंदता में,यही अंतर है धर्म और अधर्म में। आजकल...

108 views

मजारों पर दुआ के साथ दवा की पहल और ‘पागल मामा’

  अजय बोकिल भोपाल(मध्यप्रदेश)  ****************************************************************** अगर यह अंधविश्वास और झाड़-फूंक के जंजाल से लोगों को बाहर निकालने और...

120 views

मेरे बाबा तो भोलेनाथ..

तारकेश कुमार ओझा खड़गपुर(प. बंगाल ) ********************************************************** बाबा का संबोधन मेरे लिए अब भी है उतना ही पवित्र...