धर्मदर्शन

44 views

भक्ति गीत

विजयकान्त द्विवेदी नई मुम्बई (महाराष्ट्र) ********************************************** तन तो ठाकुर द्वारे आया मन में लिए अभिमानl  कृपा तुम्हारी कैसे...

129 views

दर्शनीय स्थल:जतमाई धाम

वीरेन्द्र कुमार साहू गरियाबंद (छत्तीसगढ़) ****************************************************** छत्तीसगढ़ प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण प्रदेश है। यहाँ की हरी-भरी वादियाँ लोगों...

63 views

कावड़ियों द्वारा हिंसा:पुलिस बेबस

डॉ.अरविन्द जैन भोपाल(मध्यप्रदेश) ***************************************************** यही अंतर है स्वतंत्रता और स्वच्छंदता में,यही अंतर है धर्म और अधर्म में। आजकल...

89 views

मजारों पर दुआ के साथ दवा की पहल और ‘पागल मामा’

  अजय बोकिल भोपाल(मध्यप्रदेश)  ****************************************************************** अगर यह अंधविश्वास और झाड़-फूंक के जंजाल से लोगों को बाहर निकालने और...

107 views

मेरे बाबा तो भोलेनाथ..

तारकेश कुमार ओझा खड़गपुर(प. बंगाल ) ********************************************************** बाबा का संबोधन मेरे लिए अब भी है उतना ही पवित्र...

129 views

अद्भुत श्रीमद भागवत(कथा भीष्म मुक्ति की) भाग – ६

नागेश्वर सोनकेशरी इंदौर(मध्यप्रदेश ) ****************************************************** कथा भीष्म मुक्ति की) भाग - ६ दोहा १-   सरशय्या पर शांति से,लेटे...

114 views

धर्मनिरपेक्षता

सुजीत कुमार गढ़वा(झारखंड) ******************************************************************************** एक महान हिन्दू बाप के चार बेटे थे।ब्राह्मण,क्षत्रिय,वैश्य,शूद्र। चारों की कभी आपस में नहीं...

265 views

रावण का तपोवन धाम

प्रभात कुमार दुबे(प्रबुद्ध कश्यप) देवघर(झारखण्ड) ***********************************************– देवघर बाबा बैधनाथ धाम बारह ज्योतिर्लिंगों में अष्टम ज्योतिर्लिंग के रुप में...

30 views

अद्भुत श्रीमद भागवत (युधिष्ठिर सिंहासनारोहण ) भाग -५

नागेश्वर सोनकेशरी इंदौर(मध्यप्रदेश ) ****************************************************** भाग ५ -……………………… कथा युधिष्ठिर सिंहासनारोहण की दोहा १ कृष्ण चन्द्र कहने लगे,पग...

95 views

शारदा वीणापाणि की वंदना

विजयकान्त द्विवेदी नई मुम्बई (महाराष्ट्र) ********************************************** सुन विनय मम शारदे। शब्द को सामर्थ्य दे माँ भाव का भंडार...