धर्मदर्शन

88 views

अगस्त्याश्रमः अगस्त्य मुनि

शम्भूप्रसाद भट्ट `स्नेहिल’ पौड़ी(उत्तराखंड) ***************************************** `अगस्त्यो भगवान्विष्णु स्तमभ्यर्च्या$$न्नुयाद्धरिम्`। `अगस्त्य ऋषि साक्षात् भगवान् विष्णु ही हैं,अतः जो भी जन...

98 views

विनय

विजयकान्त द्विवेदी नई मुम्बई (महाराष्ट्र) ********************************************** हो स्वामी सखा समर्थ प्रभु, फिर भी लगी नाव किनारे नहीं..? भँवर...

379 views

सत्संग का अर्थ-एक लोटा पानी

उमेशचन्द यादव बलिया (उत्तरप्रदेश)  **************************************************** भारतीय संस्कृति और समाज में सत्संग को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। सत्संग से...

246 views

वर्तमान में भगवान महावीर के सिद्धांतों  की प्रासंगिकता

डॉ.अरविन्द जैन भोपाल(मध्यप्रदेश) ***************************************************** (महावीर जन्म कल्याणक विशेष) विश्व में सब धरम प्राचीनतम होने के बाद उनका अस्तित्व वर्तमान ...