समाज

54 views

शि‍क्षा और स्वास्थ से कब तक दूरियां

हेमेन्द्र क्षीरसागर बालाघाट(मध्यप्रदेश) ***************************************************************  रोटी-कपड़ा-मकान जीवन के अनिवार्य तत्व थे,पर अब इस दौर में दवाई-पढ़ाई-कमाई-आवाजाई और वाई-फाई जुड़...

42 views

जागकर जगाने की जरूरत

अवधेश कुमार ‘अवध’ मेघालय ******************************************************************** हमें यह कहने में गर्व का अनुभव होता है कि हम भारत वर्ष...

34 views

घमंड से क्या मिला

संजय जैन  मुम्बई(महाराष्ट्र) ************************************************ घमंड के कारण अच्छे-अच्छे पंडित और बुद्धिमान लोग अपना  सर्वनाश कर लेते हैं। जैसे...

43 views

साहित्य समाज का मार्गदर्शक

शम्भूप्रसाद भट्ट `स्नेहिल’ पौड़ी(उत्तराखंड) ************************************************************** साहित्य वह अत्यंत महत्वपूर्ण व आवश्यक तत्व है,जो समाज की दशा व दिशा...

67 views

समाज और राष्ट्र के प्रति हमारी जिम्मेदारी

  कैलाश मंडलोई ‘कदंब’ रायबिड़पुरा(मध्यप्रदेश) ************************************************************* आज आधुनिकता के दौर में सामाजिक मूल्यों एवं नैतिकता का पतन हो...

29 views

पर्यावरण का सबसे बड़ा मित्र बनना होगा मनुष्य को

हेमेन्द्र क्षीरसागर बालाघाट(मध्यप्रदेश) *************************************************************** पर्यावरण दिवस विशेष............................. पर्यावरण कहें या पंचतत्व मतलब पानी आग,हवा,आसमान और जमीन,यही संसार और...

hindibhashaa
25 views

कहाँ खो रही हमारी बोलियों की मिठास

राजेश बादल ********************************************************* एक ज़माना था जब कहा जाता था कि बच्चों का रिश्ता अपने माता पिता से ज़्यादा...

55 views

आरक्षण वरदान बनाम अभिशाप

शम्भूप्रसाद भट्ट `स्नेहिल’ पौड़ी(उत्तराखंड) ************************************************************** देश तथा प्रदेश में निर्वाचन के उपरांत सबसे अधिक निर्वाचित सदस्य संख्या वाला...

30 views

संयुक्त परिवार कल और आज

ओम अग्रवाल ‘बबुआ’ मुंबई(महाराष्ट्र) ****************************************************************** विषय पर चिंतन करने से पहले हमें विषय को समझना होगा। परिवार का...

70 views

समर्पित करने का खेल

जितेन्द्र वेद  इंदौर(मध्यप्रदेश) *************************************************************  जीत समर्पित करना कुछ ऐसा ही है,जैसे किसी समारोह का भरपूर आनंद लेने के...