Tag: chaturvedi

3 views

कलयुग के दानव

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** विजयादशमी विशेष........... वो राम कहाँ से लाऊँ अब, जो रावण का संहार...

13 views

माँ अंबे नव अवतार

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** जय अंबे,अष्ट भवानी अंबे माँ, सिंह भवानी जय माँ,जगदंबे अंबे माँ। जय...

12 views

व्रत मनाएं स्नेह से

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** पितृ अमावस्या आयी। करते सब पितृ विदायी॥ आयेगी नवरात्रि अब।  घर-घर में...

33 views

श्राद्ध और ब्राह्मण भोज

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ******************************************************************  आजकल एक नया फैशन और नई सोच समाज में तेजी से बढ़...

11 views

राधा रानी जन्म

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** भाद्र मास शुक्ल पक्ष अष्टमी को, प्रकट भयी राधे रानी सुकमार। देवलोक...

11 views

काश ,भाईचारा निभा पाते

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** काश कि,इन मुर्दा लाशों में से किसी को जगा पाते। देश मेरा...

20 views

कलम तो बस जरिया

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** कलम तो बस एक जरिया है, दिल के दर्द जताने का। असल...

20 views

कृष्ण भजन

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** कृष्णा संग बसे राधा, बिन श्याम सब आधा मन बसे रूप सादा,...

37 views

सावन में साजन संग अच्छा लगता है

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** सावन में साजन से मिलना अच्छा लगता है, मेहंदी और महावर से...

22 views

भाई-बहिन का साथ

संध्या चतुर्वेदी ‘काव्य संध्या’ अहमदाबाद(गुजरात)  ****************************************************************** भाई घर की शान है,बहना है अभिमान। देखो बहना के बिना,सूना लगता...