Tag: karan

285 views

बातें करते हैं यादों से..

करणसिंह यादव अलवर (राजस्थान) ************************************************************************* मैं और मेरी तन्हाई अक्सर ये बातें करते है यादों से... उन्हें खबर...

26 views

प्रजातंत्र

प्रशान्त करण रांची(झारखण्ड) ************************************************************** प्रजातंत्र का मतलब अब शायद कुछ कुछ समझने लगा हूँ। कहते हैं कि प्रजा...

58 views

बेदखल

प्रशान्त करण रांची(झारखण्ड) **************************************************************      मुझे कुछ पता नहीं चल पाया। रातों- रात मैं बेदखल हो गया।...

42 views

लल्ले की कहानी

   लल्ला का परिवार गाँव से शहर आ गया था,क्योंकि लल्ला के बाबूजी की डॉक्टरी शहर में चल...

75 views

 मंचीय कविता और गम्भीर साहित्य

      पप्पू की पान की दुकान पर दोपहर को भीड़ नहीं थी। खाली समय में वह...