Tag: nishad

7 views

सदा मुस्कुराते चलो 

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** जिंदगी में सदा मुस्कुराते चलो। जख्म खाकर सभी को हँसाते चलो॥...

66 views

तुम्हारे नाम लिख दूँ मैं.. 

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** कहो तो जिन्दगी अपनी,तुम्हारे नाम लिख दूँ मैं। जमाने की सभी...

64 views

जरा याद करो

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* जिन्होंने हमारी खातिर, दे दिया अपन बलिदान। मत भूलो त्याग-कुर्बानी, न की उन्होंने खुशी...

44 views

बारिश

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** देखो सावन झूम के,आई है इस बार। रिमझिम बरसे बारिशें,सुन्दर पड़े...

83 views

इश्क का बाजार

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** रूठना,मनाना ही,अब काम हो गया। इश्क का बाजार,दिल के नाम हो...

100 views

पेड़ होना गुनाह है ?

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* मेरा एक सवाल... क्या पेड़ होना गुनाह है ? क्यों,क्यों... मतलब मैं बेजुबान हूँ,...

54 views

ख़ामोशी 

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** रहता हूँ खामोश मैं,जब भी होता उदास। मेरा मन लगता नहीं,यार...

193 views

माँ बंदूक थमा दो

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* मेरे छोटे-से हाथों में, मेरा सपना सजा दो। मत समझो बालकपन, प्यार का बंधन...

42 views

मन

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** मन के हारे हार है,मन के जीते जीत। मन में दृढ़...

68 views

श्रम ही ईश्वर 

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** श्रम ही ईश्वर रूप है,श्रम ही है भगवान। श्रम से ही...