Tag: nishad

5 views

बदलते रिश्ते

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** रहो महफूज दुनिया में सजाना प्यार मेरे तुम। जहां में आज...

9 views

ना भुलाना मुझे

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** रूठ जाऊँ कभी तो मनाना मुझे। कर ये वादा कभी ना...

10 views

परीक्षा

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* आई-आई,परीक्षा आई। दिमाग की घंटी बजाई॥ खोलो पुस्तक, ध्यान लगाओ पढ़ाई। अब छोड़ो,खेलना-कूदना, नहीं...

23 views

मेरी माँ

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* माँ पूछा करता हूँ बापू जी से, मगर बातों में टहलाते हैं। रोज-रोज वही...

18 views

अकेले रह गए…

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** (तर्ज:दिल के अरमां आँसूओं में बह गए...रचना शिल्प:२१२२   २१२२   २१२)...

21 views

चलो राहगीर बनकर

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* मत करो इंतजार किसी का, राह पर चलो राहगीर बनकर। बातों की बात है,...

16 views

दर्पण

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** आज सारा जमाना बदल-सा गया। जीवन आइने में मचल सा गयाll...

28 views

बेटी को पढ़ाना है

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* बेटी को पढ़ाना है, घर-घर के झगड़ा मिटाना है। बहू और सास में मित्रता...

34 views

मेरी अभिलाषा

बोधन राम निषाद ‘राज’  कबीरधाम (छत्तीसगढ़) ******************************************************************** ऐ भारत माता चरणों में, मैं दिल के फूल बिछाऊँ। मैं...

19 views

माँ वरदान दो

डोमन निषाद बेमेतरा(छत्तीसगढ़) ************************************************************* माँ मुझे वरदान दो, जग में जीने की पहचान दो। तू ही वीणा धारणी...