Tag: vihagam

28 views

कपटी मानव

दुर्गेश राव ‘विहंगम’  इंदौर(मध्यप्रदेश) ************************************************** देखो जन के रंग,रोज कपटी बन जीताl पढ़े न कोई ग्रंथ,धूल खाती है...

68 views

वसुधा

दुर्गेश राव ‘विहंगम’  इंदौर(मध्यप्रदेश) ************************************************** अमित धैर्यता धारण किए सुंदर-असुंदर-सी मही, कानन,सिंधु,नग से गिरी सदियों से करुणा-सी बही।...