1.5
करोड़ आगंतुक

गीत

राष्‍ट्रीय

राष्ट्रभाषा व देशवासियों के कानूनी अधिकारों का प्रश्न:शंका और मंशा

राष्ट्रभाषा व देशवासियों के कानूनी अधिकारों का प्रश्न:शंका और मंशा

डॉ. एम.एल. गुप्ता ‘आदित्य’मुम्बई(महाराष्ट्र)********************************************** भाषाओं का जागृति अभियान…. सभी पथ के साथी पूरे मनोभाव से…

ग़ज़ल

अनबन

अनबन

अब्दुल हमीद इदरीसी ‘हमीद कानपुरी’कानपुर(उत्तर प्रदेश)********************************************* ज़ालिम खूब चला तन-तन…

कविता

संग जाएंगे कर्म ही तेरे

संग जाएंगे कर्म ही तेरे

राजू महतो ‘राजूराज झारखण्डी’धनबाद (झारखण्ड) ****************************************** इस जहां में क्या है मेरा,फिर देखूँ क्या कुछ है…
आशीष देते रहिए

आशीष देते रहिए

श्रीमती देवंती देवीधनबाद (झारखंड)******************************************* तर्पण-समर्पण…. सादर नमन आपको हे पितामह,हम अनुजों के पूज्य पितामहीबरगद छाँव…
कृतज्ञता अपनाएं

कृतज्ञता अपनाएं

प्रीति शर्मा `असीम`नालागढ़(हिमाचल प्रदेश)******************************************** कृतज्ञता का दिव्य गुण अपनाएं,जीवन में आभारी होने का भाव लाएंधरती,…
हल

हल

संजय वर्मा ‘दृष्टि’ मनावर(मध्यप्रदेश)**************************************** उम्र को बढ़ता हुआ देख,मन ठिठक करहो जाता लाचार,विचारों की लहरेंलगने लगती…
शब्दों का जादू…

शब्दों का जादू…

एम.एल. नत्थानीरायपुर(छत्तीसगढ़)*************************************** भावों को व्यक्त करने जो,शब्दों का चयन होता हैकभी घायल चोटिल हो,कैसा दिल…