Visitors Views 20

आजादी का अमृत महोत्सव मनाएँगे

बोधन राम निषाद ‘राज’ 
कबीरधाम (छत्तीसगढ़)
****************************************

भारत की यह शान तिरंगा,
हर घर में फहराएँगे।
देशभक्ति की अविरल धारा,
जन मन हृदय बहाएँगे॥

प्राणों से भी प्यारा भारत,
कर्म भूमि यह वीरों की।
लाख सुतों की दी कुर्बानी,
भारत के रणधीरों की॥
जब तक चाँद-सितारे नभ में,
हर युग पूजे जाएँगे।
भारत की यह शान तिरंगा…॥

केशरिया संकेत त्याग का,
हरा देश खुशहाली का।
श्वेत शांति संदेशा देती,
अमन चैन दीवाली का॥
बना तीन रंगों का ध्वज यह,
जन-गण मिल सब गाएँगे।
भारत की यह शान तिरंगा…॥

पूरब-पश्चिम-उत्तर-दक्षिण,
भारत का जयकारा है।
हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई,
सबमें भाईचारा है॥
आजादी का अमृत महोत्सव,
मिलकर आज मनाएँगे।
भारत की यह शान तिरंगा…॥