कुल पृष्ठ दर्शन : 87

You are currently viewing एकसाथ ६ पुस्तक विमोचित

एकसाथ ६ पुस्तक विमोचित

दिल्ली।

जानी-मानी कवयित्री आशा दिनकर’ आस’ की ६ पुस्तकों का विमोचन एकसाथ किया गया। वरिष्ठ कवि बेबाक जौनपुरी मुख्य अतिथि रहे। मिथिलेश श्रीवास्तव ने गोष्ठी की अध्यक्षता की।
प्रकाशित पुस्तकों में २ दोहा संग्रह और ४ ग़ज़ल संग्रह हैं। विमोचन का यह कार्यक्रम पश्चिम विहार (नई दिल्ली) में आशा दिनकर के आवास पर किया गया, जिसमें अनेक साहित्यिक विभूतियों ने भागीदारी निभाई। तत्पश्चात काव्य गोष्ठी का भी आयोजन किया गया। इस अवसर पर आशा दिनकर को ‘हिन्दी श्री साहित्य सम्मान’ से सम्मानित किया गया। प्रारंभ शिबू गाजीपुरी की मधुर सरस्वती वंदना से हुआ। एक-एक कवि ने एक-एक पुस्तक पर अपनी गहन और सारगर्भित समीक्षा प्रस्तुत की। आशा जी की लिखित कविताओं का वाचन भी किया गया।

विशिष्ट कवियों में सुभाष दुआ, श्रीमती मंजुला श्रीवास्तव, श्रीमती राधा गोयल, राकेश गंभीर और सुधीर सिंह ‘सुधाकर’ आदि शामिल रहे। कवि-कवयित्रियों ने अपनी-अपनी शानदार काव्य प्रस्तुतियाँ दी। सभी कवियों को सम्मान-पत्र और अंगवस्त्र पहनाकर सम्मानित किया गया। संचालन की कमान आनन्द अमित ने संभाली।

Leave a Reply