Visitors Views 26

एक सवाल…

ताराचन्द वर्मा ‘डाबला’
अलवर(राजस्थान)
***********************************************

दौड़ता!
तेज रफ़्तार से,
आधुनिकता का घोड़ा,
परम्पराओं को भूलकर
पगडंडियों के सहारे।
एक सवाल ?
पहुंच पाएगा,
अपनी मंजिल तक।
या फिर,
बीच राह में,
अस्त हो जाएगा,
सूरज युग का॥

परिचय- ताराचंद वर्मा का निवास अलवर (राजस्थान) में है। साहित्यिक क्षेत्र में ‘डाबला’ उपनाम से प्रसिद्ध श्री वर्मा पेशे से शिक्षक हैं। अनेक पत्र-पत्रिकाओं में कहानी,कविताएं एवं आलेख प्रकाशित हो चुके हैं। आप सतत लेखन में सक्रिय हैं।