Visitors Views 271

डॉ. रमा सिंह के सम्मान में रचनाकारों ने दी सुंदर प्रस्तुति

मुम्बई (महाराष्ट्र)।

अखिल भारतीय अनुबंध फाउंडेशन (मुंबई) द्वारा मुंबई के मीरा रोड स्थित ‘विरुंगला सभागृह’ में ‘काव्य सम्मेलन’ आयोजित किया गया। पूज्य माताजी श्रीमती शकुंतला शर्मा व पूज्य पिताजी रविदत्त शर्मा की पुण्य स्मृति में भावभीनी श्रद्धांजलि स्वरूप इस विशिष्ट सम्मान समारोह एवं विशेष काव्य संध्या में बतौर मुख्य अतिथि डॉ. रमा सिंह (सुप्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय कवयित्री) के सम्मान में रचनाकारों ने सुंदर रचनाओं की प्रस्तुति दी।
इस आयोजन के विशिष्ट अतिथि लक्ष्मण दुबे (वरिष्ठ साहित्यकार), सागर त्रिपाठी (वरिष्ठ गजलकार) और अभिलाष अवस्थी (पूर्व अध्यक्ष महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी) ने मंच की शोभा में चार चाँद लगाए। समारोह के शुभारंभ में सुश्री रौशनी ‘किरण’ के सहज मंच संचालन में मुख्य अतिथि डॉ. सिंह, विशिष्ट अतिथि श्री दुबे, श्री त्रिपाठी एवं श्री अवस्थी को मंच पर आमंत्रित किया गया। डॉ. वर्षा सिंह ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। ‘किरण’ ने सभी विभूतियों का परिचय दिया। डॉ. सिंह के संचालन में लक्ष्मण दुबे, सागर त्रिपाठी, श्री अवस्थी और डॉ. कुश के हाथों डॉ. रमा सिंह को शॉल, पुष्प माला और संस्था का प्रतीक चिन्ह भेंट करने के साथ ही मंचासीन विभूतियों को भी सम्मानित किया गया।
मंचासीन विभूतियों ने मुख्य अतिथि डॉ. रमा सिंह के बारे में विचार और यादगार संस्मरण रखे। आशीर्वचन स्वरूप डॉ. कुश ने इस साहित्य अनुष्ठान पर रोचक बातें साझा की।
कार्यक्रम के अगले सत्र में यादगार काव्य संध्या की गई, जिसका बेहतरीन संचालन मशहूर ग़ज़लकार जनाब गुलशन मदान ने किया। संध्या में सभी अतिथियों ने रचनाएँ प्रस्तुत की, तो श्री मदान, डॉ. कुश, डॉ. ‘किरण’, बसंत आर्या, मनोज द्विवेदी, सुश्री मृदुला मिश्रा, सुश्री रीमा सिंह, ख़ुशबू मेहता, डॉ. पूजा अलापुरिया और आनंद पाण्डेय ‘केवल’ आदि की शानदार प्रस्तुतियों के पश्चात् डॉ. रमा सिंह द्वारा बेहतरीन गीतों और ग़ज़लों की प्रस्तुति से पूरा सभागार झूम उठा। समापन पर राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. कुश द्वारा धन्यवाद् प्रस्ताव रखा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *