कुल पृष्ठ दर्शन : 223

You are currently viewing महाराष्ट्र साहित्य अकादमी का सबसे बड़ा सम्मान ‘महाराष्ट्र भारती’ डॉ. विकास दवे को

महाराष्ट्र साहित्य अकादमी का सबसे बड़ा सम्मान ‘महाराष्ट्र भारती’ डॉ. विकास दवे को

मुंबई (महाराष्ट्र)।

साहित्य अकादमी मप्र के निदेशक व ‘देवपुत्र’ के संपादक डॉ. विकास दवे को महाराष्ट्र साहित्य अकादमी का सबसे बड़ा सम्मान ‘महाराष्ट्र भारती’ दिए जाने की घोषणा की गई है। अनेक वर्षों से बाल-हिंदी साहित्य के लिए स्वयं को खपा देने वाले सहज-सरल और जमीनी डॉ. दवे को यह सम्मान देने की घोषणा से संपूर्ण साहित्य जगत प्रसन्नता अनुभव कर रहा है।
महाराष्ट्र साहित्य अकादमी १ लाख रुपए के २ बड़े सम्मान भेंट करती है। उसमें ‘महाराष्ट्र भारती सम्मान’ देश का सबसे अधिक गौरवशाली अलंकरण है, जो किसी वरेण्य साहित्यकार को उनकी हिंदी सेवा के लिए दिया जाता है।
साहित्य अकादमी मप्र के ५ वर्षों के लंबित सम्मान सक्रियता से देशभर के साहित्यकारों को भेंट करने वाले डॉ. दवे को किसी भी अकादमी से कोई सम्मान अब तक प्राप्त नहीं हुआ था, किंतु महाराष्ट्र साहित्य अकादमी ने उनका चयन कर संपूर्ण सहित्य जगत को बड़ी प्रसन्नता दी है। महाराष्ट्र सरकार के उप-सचिव विलास रा. थोरात ने यह घोषणा करते हुए सभी साहित्यधर्मियों को शुभकामनाएं प्रेषित की है।

इंदौर वासी डॉ. दवे द्वारा मध्यप्रदेश के साहित्य जगत को अखिल भारतीय और वैश्विक स्तर पर लगातार दिलाए जा रहे यश में इस सम्मान से एक और वृद्धि हुई है। इस सम्मान पर हिंदीभाषा.कॉम के संस्थापक-सम्पादक अजय जैन ‘विकल्प’ सहित पूर्ण मंडल ने हार्दिक शुभकामनाएँ व्यक्त की है।

Leave a Reply