Visitors Views 406

मुशायरा-कवि सम्मेलन में किया सम्मान

मुम्बई (महाराष्ट्र)।

लोखंडवाला (अंधेरी (पश्चिम) मुम्बई में ‘तहज़ीब’ कार्यक्रम में शानदार मुशायरा-कवि सम्मेलन किया गया। इसमें देश के बेहतरीन शायरों व कवियों ने प्रस्तुति दी। मुख्य अतिथि महाराष्ट्र राज्य हिन्दी साहित्य अकादमी के पूर्व अध्यक्ष एवं वरिष्ठ साहित्यकार अभिलाष अवस्थी और विशिष्ट अतिथि मशहूर ग़ज़लकार-फ़िल्म गीतकार डॉ. प्रमोद कुश ‘तनहा’ रहे।
इस अवसर पर अखिल भारतीय अनुबन्ध फाउंडेशन (मुम्बई) के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. कुश के हाथों साहित्य एवं पत्रकारिता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए श्री अवस्थी को सम्मानित किया गया। सम्मान समारोह में डॉ. कुश ने ‘धरती पे हर किसी को फरिश्तों की है तलाश। मजबूर आदमी को भला पूछता है कौन॥’ सुनाकर खूब दाद बटोरी। इसमें वी. के. भल्ला, ज़ीनत अहसान कुरैशी, सुंबुल कुरैशी, नीलिमा पांडेय, वासिफ़ यार, अश्विनी ‘उम्मीद’, कृष्णा सेठी (कार्यक्रम निर्देशक) भी मौजूद रहे। श्री अवस्थी ने अध्यक्षीय उद्बोधन में अध्यक्ष डॉ. कुश का आभार व्यक्त किया। संचालन ग़ज़लकार गुलशन मदान ने किया।