कुल पृष्ठ दर्शन : 182

You are currently viewing साहित्यकार आशा आजाद ‘कृति’ को मिली डाक्टरेट की मानद उपाधि

साहित्यकार आशा आजाद ‘कृति’ को मिली डाक्टरेट की मानद उपाधि

दिल्ली।

फरीदाबाद (एनसीआर)-दिल्ली में मैजिक बुक आफ आर्ट यूनिवर्सिटी (पंजीकृत) द्वारा श्रीमती आशा आजाद ‘कृति’ (सहा. प्राध्यापक, कोरबा-छत्तीसगढ़) को डाक्टरेट की राष्ट्रीय मानद उपाधि, बेस्ट ऑथर अवार्ड एवं राष्ट्रीय एपीजे अब्दुल कलाम अवार्ड से सम्मानित किया गया। सम्मान समारोह की मुख्य अतिथि डॉ. प्रतिभा शर्मा (एड्वोकेट डीईटी) रहीं।
८ सितम्बर को इस कार्यक्रम का शुभारंभ राष्ट्रगान से किया गया। आशा आजाद को मंच से उनके अनूठे ग्रंथ ‘छत्तीसगढ़ सम्पूर्ण दर्शन’ (पूर्व में ही गोल्डन बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड से २ सम्मान प्राप्त) के उल्लेखनीय कार्य के लिए डाक्टरेट मानद उपाधि यूनिवर्सिटी से दी गई। मुख्य अतिथि डॉ. शर्मा (१०० से अधिक उपलब्धि से पुरस्कृत) ने कार्यक्रम का उद्घाटन किया। विशिष्ट अतिथि विजय कपूर (डायरेक्टर ब्रिज मेडिकल कन्सल्टिंग प्रा.लि.), विभू बत्रा (सीए गुड़गांव), श्रीमती चंद्रकांता भदौरिया (एडवो.), श्रीमती उषा रानी गाँधी (चीफ वार्डन), नवीन गौतम (प्रोड्यूसर-इंटरनेशनल डाक्यूमेंट्री) की उपस्थिति में कार्यक्रम हुआ।

डॉ. शर्मा ने कहा कि, जब हम अपनी संस्कृति को लेकर साथ चलते हैं तो ये हमारी असली पहचान होती है। उन्होंने कहा कि सभी अवार्डियों ने देशहित ध्येय से कार्य करते हुए देश का नाम रौशन किया है एवं अपने राज्य की पारंपरिक वेषभूषा में उपाधि लेकर अपनी संस्कृति का पूर्ण सम्मान किया है। हमें अपनी संस्कृति को सहेज कर रखना अनिवार्य है। इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ से सुकमोती चौहान सहित विभिन्न प्रदेश के लोगों को विशेष कार्यों के लिए उक्त मानद उपाधि दी गई। इस अवसर पर यूनिवर्सिटी के सीईओ डॉ. सी.पी. यादव ने सभी को बधाई दी।