Visitors Views 51

हिन्दी की समृद्धता पर हमें गर्व- प्रो. खरे

हिन्दी दिवस…

मण्डला (मप्र) |

हिन्दी की समृद्धता पर हमें गर्व है। हिन्दीभाषी होना हमारे लिए गौरव का विषय है।
यह विचार शासकीय जिला पुस्तकालय में
मुख्य वक्ता, साहित्यकार और शिक्षाविद प्रो. शरद नारायण खरे ने व्यक्त किए। डॉ. मुकेश कुमार लाल (प्रभारी ग्रंथपाल) के संयोजन संचालन में ‘हिन्दी दिवस’ के परिप्रेक्ष्य में यह आयोजन परिसंवाद के रूप में हुआ। विधिक सेवा प्राधिकरण के अधिकारी विजय खोबरागडे़ व सुनील उइके अन्य वक्ता के रूप में उपस्थित रहे।
डॉ. लाल ने भी हिन्दी दिवस के महत्व पर सारगर्भित तथ्य प्रस्तुत किए। प्रो. खरे ने विस्तृत व्याखान में मातृभाषा, राजभाषा व राष्ट्रभाषा के अन्तर को स्पष्ट किया।
श्री खोबरागढ़े ने कहा कि वर्तमान में हिन्दी माध्यम से उच्च प्रतियोगी परिक्षाओं में भी सफलता पाना सम्भव हो गया है।
डॉ. लाल के अनुरोध पर प्रो. खरे ने सुमधुर काव्य पाठ कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। डी. के. श्रीवास्तव ने आभार प्रदर्शन किया।