रचना पर कुल आगंतुक :78

You are currently viewing कहानी संग्रह ‘क्योंकि’ विमोचित

कहानी संग्रह ‘क्योंकि’ विमोचित

मुरादाबाद(उप्र)।

साहित्यिक संस्था ‘कार्तिकेय’ (मुरादाबाद) के कार्यक्रम में ‘वैश्विक हिंदी सम्मेलन’ के निदेशक डॉ. एम.एल. गुप्ता ‘आदित्य’ ने विशिष्ट अतिथि के रूप में सहभागिता की। इसमें मुरादाबाद के अपर जिलाधिकारी सहित समाज के प्रमुख व्यक्ति भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम में इला सागर के कहानी संग्रह ‘क्योंकि’ का विमोचन किया गया।
इस अवसर पर डॉ. गुप्ता ‘आदित्य’ ने कहा कि, आज जिस प्रकार युवा वर्ग अपनी भाषाओं से मुंह मोड़ कर अंग्रेजी-परस्ती की तरफ बढ़ रहा है,ऐसे में मुरादाबाद की एक लड़की का उत्कृष्ट स्तर का कहानी संग्रह सामने आना आशा जगाता है। संग्रह में विचारों और कल्पनाओं का रोचक समावेश है और लेखन में पैनापन है। हमें आशा है कि यह युवा लेखिका भविष्य में हिंदी लेखन में अपना महत्वपूर्ण स्थान बनाएगी।
स्वतंत्रता सेनानी सभागार में आयोजित इस कार्यक्रम में उपस्थित श्रोताओं को आपने हिंदी भाषा हेतु सम्मेलन तथा जनता की आवाज फाउंडेशन द्वारा किए जा रहे कार्यों की संक्षिप्त जानकारी दी। उपस्थित श्रोताओं ने इन विचारों का करतल ध्वनि से स्वागत किया। अपर जिलाधीश ने भी इन विचारों से सहमति जताई और कहा कि वे प्रशासनिक व सामाजिक स्तर पर भारतीय भाषाओं को बढ़ाने में यथासंभव अपना योगदान देंगे।
कार्यक्रम में संस्था के अध्यक्ष दीपक बाबू,सचिव डॉ. पंकज दर्पण अग्रवाल की महत्वपूर्ण भूमिका रही। मुख्य अतिथि अपर जिलाधिकारी आलोक वर्मा,प्राचार्य जॉली गर्ग,कवियित्री कमला सिंह जीनत,क्षेत्रीय वैज्ञानिक अधिकारी एस.सी. शर्मा तथा सुप्रसिद्ध साहित्यकार डॉ. महेश दिवाकर आदि गणमान्यजन उपस्थित रहे।

(सौजन्य:वैश्विक हिंदी सम्मेलन,मुंबई)

Leave a Reply