कुल पृष्ठ दर्शन : 903

You are currently viewing पुस्तक विमोचन संग हुई परिचर्चा

पुस्तक विमोचन संग हुई परिचर्चा

पंचकू‌ला (हरियाणा)।

हरियाणा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी (पंचकू‌ला) के महाराजा दाहिर सेन सभागार में पुस्तक विमोचन- परिचर्चा कार्यक्रम २ लेखकों की ओर से आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री (कार्यकारी उपाध्यक्ष, अकादमी) रहे।
इसमें डॉ. अलका शर्मा बोस तथा डॉ.अश्वनी शांडिल्य के सम्पादन में प्रकाशित काव्य संकलन ‘बिन तुम्हारे’ का विमोचन हुआ। इस पुस्तक पर समीक्षक डॉ. अरविन्द द्विवेदी ने सूक्ष्म विश्लेषण के साथ पर्चा पढ़ा। डॉ. शांडिल्य द्वारा लिखित पुस्तक ‘राष्ट्रीय चेतना के उन्नायक:कन्हैया लाल मिश्र प्रभाकर’ का भी विमोचन किया गया। इस पर डॉ. बोस ने पर्चा पढ़ा। डॉ. अग्निहोत्री ने लेखकों को बधाई देते हुए कहा कि, कविता स्वत: ही कवि के हृदय से निसृत होती है।
प्रसिद्ध साहित्यकार डॉ. एम. एम. जुनेजा ने अध्यक्ष के रूप में पुस्तक-संस्कृति को बढ़ावा देने की बात कही।
विशिष्ट अतिथि भारतभूषण कौशिक (संयुक्त निदेशक खाद्‌य एवं आपूर्ति) ने बाल साहित्य की महती आवश्यकता पर जोर दिया।

कार्यक्रम के दूसरे चरण में ‘बिन तुम्हारे’ के रचनाकार अनु निमल, दीपिका बहुगुणा और डॉ. बोस आदि ने काव्य पाठ किया। मंच का संचालन डॉ. शांडिल्य ने किया।