Visitors Views 30

शिक्षण-लेखन को समर्पित नमिता दुबे ‘उत्कृष्ट सेवा अलंकरण’ से सम्मानित

झाबुआ(मध्यप्रदेश) |

भारत की प्रथम शिक्षिका वंदनीय सावित्रीबाई फुले के स्मृति दिवस पर झाबुआ में अखिल भारतीय मातृशक्ति सम्मान समारोह का आयोजन राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना एवं झाबुआ की साहित्यिक समाजसेवी संस्थाओं के संयुक्त तत्वाधान में हुआ। मुख्य अतिथि डॉ.सुवर्णा यादव(मुम्बई)ने समारोह में प्रतिष्ठित शिक्षिका सुश्री नमिता दुबे को ‘उत्कृष्ट सेवा अलंकरण’ से सम्मानित किया।
इस कार्यक्रम की अध्यक्षता संचेतना के अध्यक्ष डॉ.प्रभु चौधरी ने की। विशेष अतिथि पश्चिम बंगाल से डॉ.सुनीता मंडल,चेतना उपाध्याय,डॉ. अर्चना झा,और झाबुआ के समाजसेवी यशवन्त भंडारी रहे। मुख्य वक्ता के रूप में डॉ. मनीषा शर्मा,इंदौर ने भी मार्गदर्शन दिया। इस मौके पर प्रतिष्ठित शिक्षिकाओं- समाजसेवियों-साहित्यकारों को समाज हित में शिक्षा,साहित्य, संस्कृति एवं योग में दिए गए योगदान के लिए उत्कृष्ट सेवा अलंकरण सम्मान के क्रम में शॉल,श्री फल एवं सम्मान-पत्र से अतिथियों ने शा.मा.वि.क्र. ४८(धनवंतरी नगर)की शिक्षिका और लेखिका सुश्री नमिता दुबे को सम्मानित किया।
ज्ञात हो कि हिन्दी भाषा के लिए कार्यरत लोकप्रिय मंच ‘हिंदीभाषा डॉट कॉम’ की प्रचार प्रमुख सुश्री दुबे लंबे समय से हिन्दी लेखन में सक्रिय हैं। एक्यूप्रेशर चिकित्सा की भी अनुभवी होकर आप रूप से परेशानी में होने के बाद भी जीवटता से शिक्षा के प्रति समर्पित हैं। विभिन्न जागरूकता अभियान में सक्रिय होने के साथ ही आपको लेखन में विशिष्ट सेवार्थ ‘नेशन बिल्डर अवार्ड २०१६’ और ‘नेशन बिल्डर अवार्ड २०१७’ सम्मान सहित नई शिक्षा नीति पर श्रेष्ठ सुझाव हेतु राज्य शिक्षा मंत्री दीपक जोशी द्वारा २०१६ में सम्मानित किया जा चुका है।
उक्त समारोह में इस अवसर पर संचेतना की प्रतिवर्ष अनुसार प्रकाशित स्मारिका २०१९-मातृशक्ति विशेषांक का विमोचन किया गया,जो डॉ.चौधरी के सम्पादन एवं सुश्री दुबे(प्रधान सम्पादक)के प्रयास से तैयार की गई है।