कुल पृष्ठ दर्शन : 322

You are currently viewing सारे बंद द्वार खुल जाएंगे

सारे बंद द्वार खुल जाएंगे

कवि योगेन्द्र पांडेय
देवरिया (उत्तरप्रदेश)
*****************************************

सत्ता के सिंहासन पे, सच्चा राजनेता हो तो,
अधिकारी भ्रष्ट झूठ, बोल नही पाएंगे।
अपने ही देश में, सुशासन का स्वप्न लिए,
त्यागी अनुरागी नई, क्रांति ले के आयेंगे।

नई तरूणई नई, सोच का विचार लिए,
खुशहाली युक्त नया, बदलाव लायेंगे।
देश के युवाओं को भी, अवसर देंगे यदि,
प्रगति के सारे बंद, द्वार खुल जायेंगे॥

Leave a Reply