Visitors Views 153

हमको कदम उठाना होगा

डॉ.हेमलता तिवारी
भोपाल(मध्य प्रदेश)
***********************************

युवाओं की सर्वाधिक संख्या में अग्रणी हमारा देश,
मुफ्त की योजनाओं के कारण नाकारा युवाओं को कुशल और दक्ष बनाना होगा,
हमको कदम उठाना होगा…।

तकनीकी शिक्षा देकर देशी उत्पादों में,
चीन, जापान, ताईवान की तरह विशेषज्ञता को बढ़ाना होगा
उत्पादन की नीतियों को लचीला बनाना होगा।
हमको कदम उठाना होगा…

गरीबी दूर करने की जगह,
अमीरी बढ़ाने का लक्ष्य रखना होगा
बाज़ार के अनुकूल उपयोगी माल बनाना होगा,
विक्रय को करों की जटिलता से बचाना होगा।
हमको कदम उठाना होगा…

रोकना होगा योग्यताओं-क्षमताओं की अनदेखी करना,
रोकना होगा प्रतिभाओं का पलायन
उन्हें सम्मान, प्राथमिकता और अवसर दिलाना होगा
प्रतिभाओं से रिक्त होते देश को,
बौद्धिक कंगाली से बचाना होगा।
हमको कदम उठाना होगा…

खाने में पोषक तत्वों की कमी हो गई,
पीढ़ियाँ बीमार और अपाहिज हो रहीं
भोजन में जहर देने.. कानून बनाना होगा।
हमको कदम उठाना होगा…

प्रदूषण की उच्चता में निरन्तर वृद्धि से,
लोगों की साँसें बेतरतीब हैं
सागर में पलती साँसें बेचैन हैं,
वहीं आसमान की कई प्रजातियां विलीन हैं
कौओं की कांव-कांव सुनने को कान तरस गए,
आसमान तारों से रीत गए
फैक्ट्रियों के प्रदूषित उत्पादों को,
जल और वायु में मिलने से रोकना होगा।
हमको कदम उठाना होगा….

क्या होगा-राष्ट्रों के शक्ति प्रदर्शन और सैन्य अभ्यास से ??
किसे चाहिए-खंडहर होते शहर और गोला बारूद ??
हमें तो उगती, लहलहाती फसलें और गाते, झूमते पेड़ और जंगलों के शहर चाहिए।
सत्ता और जमीन के भूखे राष्ट्र अध्यक्षों की, सोच को जड़ से मिटाना होगा।
हमको कदम उठाना होगा…॥

परिचय-डॉ.हेमलता तिवारी का जन्म १४ नवम्बर १९६५ को सागर में हुआ हैL वर्तमान में छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में निवास है,जबकि स्थायी पता भोपाल(मध्य प्रदेश) हैL बी.एस-सी,(जीवविज्ञान)बी.ए.(संगीत), एम.ए (संगीत, इतिहास, दर्शन,लोक प्रशासन,एजूकेशनल सायकोलॉजी, क्लीनिकल साय.,आर्गेनाइजेशनल साय.)एल.एल.बी.,पी.जी.डी.(लेबर लॉ एंड इण्डस्ट्रियल रिलेशन)सहित पी.एच-डी.(इन क्लीनिकल साय.), एम.बी.ए.(वित्त और मानव संसाधन) की शिक्षा प्राप्त डॉ.तिवारी का कार्य क्षेत्र-नौकरी हैL सामाजिक गतिविधि के तहत आप व्यक्तित्व विकास प्रशिक्षक,परामर्शी सहित ज्योतिष लेखन में सक्रिय हैंL इनकी लेखन विधा-कविता,कहानी एवं आलेख हैL हिन्दी सहित अंग्रेजी का भाषा ज्ञान रखती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *