Visitors Views 33

‘आरआरआर’ का ट्रेलर प्रदर्शित

इदरीस खत्री
इंदौर(मध्यप्रदेश)
*******************************************************

‘आरआरआर’ फिल्म का ट्रेलर (विज्ञापन या टीजर) प्रदर्शित हो गया है। पहले ट्रेलर में राम चरण,दूसरे में जूनियर एन.टी. आर. दिखाई दिए हैं।

*फ़िल्म से पहले चर्चा-
दुनिया में आसान लफ़्ज है दोस्ती,जो छोटा सही,पर इसे हम ख़ुद चुनते हैं। रिश्ते तो कुदरत बनाती है,पर दोस्ती हम चुनते हैं और हम ही सहेजते,पालते, पोसते हैं। यह जब फल जाए तो दुनिया को जीत सकते हैं और दोस्त खो दें तो दुनिया हार भी सकते हैं। इन्हीं पंक्तियों को चरितार्थ करेगी एस.एस. राजमौली की अगली फिल्म ‘आरआरआर’, जिसमें तेलगू सिनेमा के बेहतरीन सितारे जूनियर एन.टी. आर. और राम चरण एकसाथ नज़र आएंगे।
*बड़ा बजट-
फ़िल्म ‘बाहुबली’ वाले राजमौली की है,जिसका अनुमानित बजट ४०० करोड़ है।फ़िल्म के टीजर से ही भव्यता का अभ्यास हो रहा है। फ़िल्म में १९२० के कालखंड को भी दिखाया जाएगा।
*दोस्ती पर केन्द्रित-
इस फिल्म ‘आरआरआर’ का मतलब-उठो (राइज), दहाड़ो(रिवोल्ट) और टकरा जाओ या क्रांति (रिवोल्यूशन) है,लेकिन फ़िल्म दोस्ती पर ही मुख्यत: केन्द्रित होगी। फ़िल्म के २ किरदार अलूरी सीताराम राजू और कौमा भीमा राव सच्ची घटनाओं से उठाए गए हैं। भारत के इतिहास के पन्नों में दर्ज है कि,इन दो दोस्तों ने आज़ादी के लिए कुर्बानी दी थी।
*असली किरदार-
२ असली किरदारों की कुर्बानी को एक काल्पनिक कहानी बुनकर फ़िल्म बनाई गई है। फ़िल्म में केवल लड़ाई (एक्शन) ही मिलने वाला है यह ज़रूरी नही है,प्रेम (रोमांस) का तड़का भी मिलेगा। राम चरण एक तरफ आलिया भट्ट से इश्क फरमाते नज़र आएंगे,तो दूसरी तरफ जूनियर आर हॉलीवुड की अभिनेत्री ओलिविया मोरिस की मुहब्बत में नज़र आएंगे,जिसमें कुछ जांबाज़ नौजवान जान की बाजी लगा कर अंग्रेजी हुकूमत की मुख़ालफ़त करते नज़र आएंगे।
*एकसाथ प्रदर्शन-
पहले ‘आर’ में राम चरण,दूसरे में एन.टी.आर. और तीसरे में अजय देवगन से बात अंतिम हो चली है। राम चरण और जूनियर दोनों ही दक्षिण भारतीय सिनेमा के मशहूर और मारुफ सितारे हैं,जिनकी फिल्मों में हाजरी ही सफलता का प्रमाण-पत्र होती है। इस फ़िल्म को तमिल,तेलगू,कन्नड़,मलयालम और हिंदी में एकसाथ प्रदर्शित किए जाने की तैयारी है,क्योंकि ‘बाहुबली’ ने राजमौली को सारे अनुभवों से परिचित करा दिया है। अब राजमौली न सिर्फ भारतीय सिनेमाघरों में प्रदर्शन का अनुभव रखते हैं,बल्कि वैश्विक प्रदर्शन पर भी काम कर सकेंगे।
अजय देवगन का तीसरे ‘आर’ में आना भी इस बात की ग्यारंटी होगा कि फ़िल्म सम्पूर्ण भारत में प्रदर्शित की जाएगी। हो सकता है कि राजमौली अपनी ही फ़िल्म ‘बाहुबली’ के रिकॉर्ड को इस बार पीछे छोड़ दें। फ़िल्म से उम्मीद भी यही की जानी चाहिए। फ़िल्म का संगीत उचित-उपयुक्त-कर्णप्रिय बना है,जिसकी झलक टीजर में साफ सुनाई दे रही है।
कूल मिलाकर दक्षिण और मुम्बई कर सिनेमा का यह तालमेल कोई बड़े धमाके की दस्तक देता नज़र आ रहा है। फ़िल्म २०२१ में सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी। वह समय दूर नहीं,ज़ब दर्शकों को भाषा के बंधनों को तोड़कर उत्तम और परिष्कृत फिल्में देखने को मिलेंगी।

परिचय : इंदौर शहर के अभिनय जगत में १९९३ से सतत रंगकर्म में इदरीस खत्री सक्रिय हैं,इसलिए किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। परिचय यही है कि,इन्होंने लगभग १३० नाटक और १००० से ज्यादा शो में काम किया है। देअविवि के नाट्य दल को बतौर निर्देशक ११ बार राष्ट्रीय प्रतिनिधित्व नाट्य निर्देशक के रूप में देने के साथ ही लगभग ३५ कार्यशालाएं,१० लघु फिल्म और ३ हिन्दी फीचर फिल्म भी इनके खाते में है। आपने एलएलएम सहित एमबीए भी किया है। आप इसी शहर में ही रहकर अभिनय अकादमी संचालित करते हैं,जहाँ प्रशिक्षण देते हैं। करीब दस साल से एक नाट्य समूह में मुम्बई,गोवा और इंदौर में अभिनय अकादमी में लगातार अभिनय प्रशिक्षण दे रहे श्री खत्री धारावाहिकों और फिल्म लेखन में सतत कार्यरत हैं। फिलहाल श्री खत्री मुम्बई के एक प्रोडक्शन हाउस में अभिनय प्रशिक्षक हैंL आप टीवी धारावाहिकों तथा फ़िल्म लेखन में सक्रिय हैंL १९ लघु फिल्मों में अभिनय कर चुके श्री खत्री का निवास इसी शहर में हैL आप वर्तमान में एक दैनिक समाचार-पत्र एवं पोर्टल में फ़िल्म सम्पादक के रूप में कार्यरत हैंL