कुल पृष्ठ दर्शन : 176

You are currently viewing बच्चों के लिए और रचनाएँ लिखने की ज़रूरत

बच्चों के लिए और रचनाएँ लिखने की ज़रूरत

लोकार्पण…

इन्दौर (मप्र)।

आज के दौर में बच्चों के लिए और ज़्यादा रचनाएँ लिखने की ज़रूरत है। साहित्य समाज का मार्गदर्शन करता है।
वरिष्ठ लेखिका प्रेम मंगल के बाल कविता संग्रह ‘मेहेर’ का लोकार्पण क्षेत्रीय कार्यालय जीपीओ सभागार में करते हुए मुख्य अतिथि पोस्ट मास्टर जनरल बृजेश कुमार ने यह बात कही। कार्यक्रम की अध्यक्षता ‘देवपुत्र’ के कार्यकारी संपादक गोपाल माहेश्वरी ने की। उन्होंने कहा कि, बाल साहित्य पढ़ने में भले आसान लगता है, किन्तु इसकी रचना करना कठिन होता है।

विशेष अतिथि सहायक निदेशक (डाक) राजेश कुमावत ने भी अपनी बात रखी।वरिष्ठ साहित्यकार रविन्द्र पहलवान, वरिष्ठ पत्रकार मुकेश तिवारी और जेपी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply