कुल पृष्ठ दर्शन : 135

You are currently viewing योग रखेगा पूर्ण निरोग

योग रखेगा पूर्ण निरोग

संजय सिंह ‘चन्दन’
धनबाद (झारखंड )
********************************

प्रातः काल करें शारीरिक योग,
स्वास्थ्य लाभ अकाट्य प्रयोग
सुलभ योग करे हमें निरोग,
योग साधना, अध्यात्म है योग
मन-मस्तिष्क में जगे प्रयोग,
स्वस्थ शरीर हो, भागे रोग,
विश्व भी मांगे यह सहयोग
विश्व में दिखता अब प्रयोग,
दुनिया समझे योग उपयोग
योग रखेगा, सबको जोग,
दवा-दारू है विफल प्रयोग
योग रहस्य है, कसरत योग,
हसरत पूरी करता योग।

योग निहित हो सबकी फितरत,
आदिकाल से मेहनत-कसरत
सादा जीवन उच्च विचार,
योग से निकले सभी विकार
योग से पनपे शुद्ध विचार,
आओ मनाएं विश्व में योग।
अपना कर, घर-घर में योग,
दुनिया हो अब पूर्ण निरोग॥

Leave a Reply