कुल पृष्ठ दर्शन : 206

You are currently viewing स्थापना दिवस पर काव्य गोष्ठी में लगा कलमकारों का जमघट

स्थापना दिवस पर काव्य गोष्ठी में लगा कलमकारों का जमघट

सूरत (गुजरात)।

‘कलम बोलती है’ साहित्य समूह सूरत के तृतीय स्थापना दिवस पर देशभर के कवियों और साहित्यकारों का जमघट हुआ। सभी कलमकारों ने एक से बढ़कर एक रचनाएं प्रस्तुत की।
प्रारम्भ में देवघर (झारखंड) के दीपनारायण झा ‘दीपक’ ने वाग्देवी सरस्वती माता की वंदना प्रस्तुत की। स्थापना दिवस पर आयोजित इस काव्य गोष्ठी में रचनाकारों श्रीमती उमा वैष्णव (संस्थापिका), रवींद्र कुमार शर्मा, प्रमोद चौहान, डॉ. कन्हैयालाल गुप्त, उषा मिश्रा, डॉ. दुर्गा सिन्हा ‘उदार’ एवं राजीव रावत आदि ने रचनाएँ प्रस्तुत की। संचालन प्रीतम सिंह ने किया।

Leave a Reply