कुल पृष्ठ दर्शन : 338

You are currently viewing ३ पुस्तकें विमोचित

३ पुस्तकें विमोचित

इंदौर (मप्र)।

विश्वरंग महोत्सव के अंतर्गत आइसेक्ट के इंदौर क्षेत्रीय कार्यालय में ‘लेखक से मिलिए’ कार्यक्रम में आइसेक्ट पब्लिकेशन की ३ पुस्तकों कविता संग्रह ‘खिलाफ ही मुझको पाओगे’ (लेखक-डॉ. राजेश नीरव) एवं ‘प्रेम आंगन’ (लेखक- राजकुमार हांडा) तथा कहानी संग्रह ‘हाइवे के देवदूत’ (लेखक-चंद्रशेखर साकल्ले) का विमोचन किया गया। मुख्य अतिथि साहित्य अकादमी मप्र के निदेशक डॉ. विकास दवे ने इन पर चर्चा भी की।
इस कार्यक्रम में लेखकों द्वारा अपनी नवप्रकाशित पुस्तकों में से रचनाओं का पाठ भी किया गया। डॉ. दवे ने पब्लिकेशन के इस कार्य की सराहना की, जिसमें सिर्फ पुस्तकों का प्रकाशन ही नहीं किया जा रहा, बल्कि लेखक एवं पाठक दोनों को शामिल करके इस प्रकार के अनूठे कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। कार्यक्रम में विशेष अतिथि संयुक्त आयुक्त (क्षेत्रीय ग्रामीण विकास प्रशिक्षण संस्थान, इंदौर) प्रतीक सोनवलकर ने पुस्तक संस्कृति पर विचार व्यक्त करते हुए सभी लेखकों को शुभकामनाएं दी। अध्यक्षता करते हुए वरिष्ठ साहित्यकार सूर्यकांत नागर ने लेखकों को शुभकामनाएं एवं मार्गदर्शन भी दिया।

वनमाली सृजनपीठ (भोपाल) के अध्यक्ष और वरिष्ठ कथाकार मुकेश वर्मा ने विश्वरंग अंतर्गत पुस्तक संस्कृति के विकास के लिए किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। पब्लिकेशन के वरिष्ठ प्रबंधक महीप निगम ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम संयोजन शुभम चतुर्वेदी, अभिजीत चौबे व श्याम दुबे ने किया। संचालन सुश्री अनुभूति निगम ने किया।

Leave a Reply