कुल पृष्ठ दर्शन : 261

You are currently viewing दिल्ली में प्रेरणा ने चलाया हिंदी अभियान

दिल्ली में प्रेरणा ने चलाया हिंदी अभियान

दिल्ली।

प्रेरणा हिंदी प्रचारिणी सभा ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने के अभियान के तहत दिल्ली में इंडिया गेट से राजघाट तक पदयात्रा व राष्ट्रीय सम्मेलन का कार्यक्रम किया। इस अवसर पर उपस्थित कवियों ने प्रतिनिधि रचनाओं का पाठ किया।
सभा के सम्मेलन की शुरुआत संस्थापक कवि संगम त्रिपाठी व डॉ. धर्मप्रकाश वाजपेयी ने माँ सरस्वती के पूजन के साथ की। डॉ. वाजपेयी ने अतिथि व रचनाकारों का सम्मान किया। समारोह में स्मारिका प्रवर्तना व बिनोद कुमार पांडेय की कृति ‘जीवन एक सफर’, डॉ. हरेंद्र हर्ष का उपन्यास ‘शंखनाद’, हिमांशु की कृति ‘काव्य तिलक’, रजनी सिंह की कृति ‘जिंदगी! वाह’ और ‘मेरी ७५ कविताएं’ संग्रह का विमोचन किया गया।

प्रदीप मिश्र के संचालन में अतिथियों ने हिंदी पर विचार व्यक्त किए। पदयात्रा व सम्मेलन में ध्रुव यदुवंशी, पूनम बागडिया, चन्द्रकान्ता चंद्रेश, कमलेश विष्णु सिंह ‘जिज्ञासु’, डॉ. शिवशरण श्रीवास्तव ‘अमल’ (छग) और डॉ. गुंडाल विजय कुमार आदि उपस्थित रहे।