Visitors Views 11

पूजा

विजयसिंह चौहान
इन्दौर(मध्यप्रदेश)
******************************************************
जेंट्स हेयर सैलून में आज रविवार होने के कारण काफी भीड़ नजर आ रही है। सुबह ७ बजे दुकान मालिक ने शटर ऊंचा किया और स्वयं झाड़ू-पोंछा कर बड़ी श्रद्धा भाव से भगवान की पूजा में जुट गया। धूप-दीप और अगरबत्ती से सैलून महकने लगा।
दरवाजे पर टंगा,पांच मिर्ची के बीच एक नींबू मुस्कुरा रहा था। मालिक ने उसे भी सम्मान देते हुए अगरबत्ती लगा कर मन ही मन आराधना की।
इधर दुकान के बाहर हजामत बनाने वाले कुछ लोग दूसरी दुकान की ओर चल पड़े तो कुछ लोग अपने नम्बर के इंतजार में कई बार कंघी कर चुके थे। सभी सोच रहे थे कि कितना धार्मिक प्रवृत्ति का इंसान है,तभी अचानक दुकान पर लगे बड़े शीशों पर नजर पड़ी, जिस पर लिखा था ‘कर्म ही पूजा है।’

परिचय : विजयसिंह चौहान की जन्मतिथि ५ दिसम्बर १९७० और जन्मस्थान इन्दौर(मध्यप्रदेश) हैl वर्तमान में इन्दौर में ही बसे हुए हैंl इसी शहर से आपने वाणिज्य में स्नातकोत्तर के साथ विधि और पत्रकारिता विषय की पढ़ाई की,तथा वकालात में कार्यक्षेत्र इन्दौर ही हैl श्री चौहान सामाजिक क्षेत्र में गतिविधियों में सक्रिय हैं,तो स्वतंत्र लेखन,सामाजिक जागरूकता,तथा संस्थाओं-वकालात के माध्यम से सेवा भी करते हैंl लेखन में आपकी विधा-काव्य,व्यंग्य,लघुकथा और लेख हैl आपकी उपलब्धि यही है कि,उच्च न्यायालय(इन्दौर) में अभिभाषक के रूप में सतत कार्य तथा स्वतंत्र पत्रकारिता जारी हैl