कुल पृष्ठ दर्शन : 193

You are currently viewing ‘स्वाध्याय और चिंतन’ निबंध संग्रह विमोचित

‘स्वाध्याय और चिंतन’ निबंध संग्रह विमोचित

इंदौर (मप्र)।

संस्था अखंड संडे के तत्वावधान में साहित्यकार गौरीशंकर दुबे (रतलाम) की पुस्तक ‘स्वाध्याय और चिंतन’ निबंध संग्रह का आभासी विमोचन किया गया। इस अवसर पर अतिथि प्रख्यात निबंधकार नर्मदा प्रसाद उपाध्याय (इंदौर) ने कहा कि, इस संग्रह में भारतीय संस्कृति के विभिन्न आयामों के साथ-साथ लेखक ने स्वयं के चिंतन को भी संजोया है। अतिथि डॉ. योगेन्द्र नाथ शुक्ल ने कहा कि भाषा का प्रवाह और कला का सौंदर्य निबंध को विशिष्ट बना देता है। लेखिका रश्मि रमानी, श्री दुबे ने भी बात रखी। संयोजक मुकेश इंदौरी, पद्मासिंह, डॉ. साधना देवेश, टी.पी. त्रिपाठी और डॉ. शशि निगम आदि साहित्यकार उपस्थित रहे।

Leave a Reply