रचना पर कुल आगंतुक :213

You are currently viewing ज्ञान भी-सम्मान भी’ प्रतियोगिता को मिला बेहतर प्रतिसाद

ज्ञान भी-सम्मान भी’ प्रतियोगिता को मिला बेहतर प्रतिसाद

मुम्बई (महाराष्ट्र)।

प्रतियोगी युग की प्रतियोगिताओं की श्रृंखला में एक अनोखी और नई पहल है ‘ज्ञान भी,सम्मान भी।’ इस प्रतियोगिता का आयोजन अंतर्राष्ट्रीय हिंदी परिषद महिला प्रकोष्ठ,मुंबई जिला (महाराष्ट्र) द्वारा किया गया,जिसे बेहतर प्रतिसाद मिला है।
मुम्बई में परिषद का गठन मार्च २०२१ में हुआ है। मुम्बई परिषद की अध्यक्ष डॉ. पूजा अलापुरिया नए बताया कि,राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं संस्थापक (अंतर्राष्ट्रीय हिंदी परिषद) हृदय नारायण मिश्रा के मार्गदर्शन में परिषद की सभी कर्मठ और सृजनात्मक महिला सदस्यों के सामूहिक प्रयास से पहली प्रतियोगिता का आयोजन ‘गूगल फॉर्म’ पर किया गया। इस प्रश्नावली की संयोजिका श्रीमती मुक्ता वर्मा एवं श्रीमती वृषाली लोखंडे रहीं। गूगल फॉर्म की कड़ी (लिंक) विभिन्न विद्यालयों तथा अन्य हिंदी शिक्षकों के व्हाट्सअप समूह में जारी करने पर विद्यार्थियों से बेहतरीन प्रतिसाद-प्रदर्शन मिला है।
आपके अनुसार स्पर्धा में हिंदी भाषा व्याकरण की बहुविकल्पी प्रश्नावली हल करने पर प्रत्येक प्रतियोगी को सहभागिता प्रमाण-पत्र प्राप्ति का प्रावधान है। अल्प समय में प्रश्नावली महाराष्ट्र के अतिरिक्त मद्रास,कर्नाटक व राजस्थान के विद्यार्थियों ने भी हल की। इस अभूतपूर्व प्रतिसाद ने सभी महिला सदस्यों में विश्वास और उत्साह जागृत कर दिया है,क्योंकि परिषद का मूल उद्देश्य-विद्यार्थियों में हिंदी भाषा के प्रति रुचि में वृद्धि करना तथा उनके ज्ञान और प्रयास को सम्मान देना है।

Leave a Reply