Visitors Views 65

लेखक पंकज ‘ प्रियम’ को हिंदी साहित्य अकादमी ने किया सम्मानित

मधुपुर(झारखंड)।

कवि व लेखक पंकज भूषण पाठक ‘प्रियम’ को साहित्य के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान हेतु हिंदी साहित्य अकादमी ने सम्मानित किया है। उत्तरप्रदेश की नगरी हस्तिनापुर स्थित जम्बूदीप में कविकुम्भ २०१९ में पंकज को सम्मानित किया गया। आपने यहाँ रचनाएँ प्रस्तुत भी की।
सम्मेलन में इनके द्वारा किए गए काव्य पाठ-“जब बात वतन पे आती है तो कुछ बोलना पड़ता है,ग़द्दारों की सुनकर बोली,मुँह खोलना पड़ता है” तथा “बदल गया भूगोल केसरिया बदल गया इतिहास,कलंकित धारा तीन सौ सत्तर बन गयी इतिहास” को काफी सराहना मिली। कविकुम्भ में देशभर के ख्यातिप्राप्त कवियों के साथ पंकज भूषण ने मंच साझा किया।
ज्ञात हो कि,लोकप्रिय मंच हिंदीभाषाडॉट कॉम (www.hindibhashaa.com) के सक्रिय रचनाशिल्पी पंकज ‘प्रियम’ पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल,मधुपुर के अधिकारी होकर पिछले २ दशक से लेखन कार्य मे जुटे हैं। आपकी सैकड़ों रचनाएं देश-विदेश की पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होती रही है,तो अब तक १२ पुस्तकें भी प्रकाशित हो चुकी हैं,साथ ही कईं सम्मान प्राप्त हो चुके हैं।