राष्ट्रीय

Showing 10 of 1,545 Results

जाने कब आदमी ‘इंसान’ बनेगा ?

ललित गर्गदिल्ली************************************** उत्तर प्रदेश में चूहे को मारने के आरोप में एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज होने की घटना मानव-समाज में साधारण होकर भी चौंका रही है, इसलिए कि […]

हिम्मत रखकर उत्साह व साहस से किए कार्य की सफलता निश्चित

गोवर्धन दास बिन्नाणी ‘राजा बाबू’बीकानेर(राजस्थान)*********************************************** साहस-उत्साह-हिम्मत… बिना डरे अर्थात परिणाम की परवाह किए बिना जब किसी का भी सामना करते हैं, तब वह कार्य ‘साहस’ कहलाता है। उसी प्रकार जब किसी […]

पाकिस्तान में फौजी भ्रष्टाचार

डॉ.वेदप्रताप वैदिकगुड़गांव (दिल्ली) ******************************************* पाकिस्तान की फौज को दुनिया की सबसे ज्यादा भ्रष्ट फौज माना जाता है। पाकिस्तान का हर महत्वाकांक्षी नौजवान फौज में भर्ती होना चाहता है, क्योंकि वहां मूँछों […]

समझना होगा ‘आबादी नियंत्रण’ और ‘आबादी बढ़ाओ’ को

डॉ.अरविन्द जैनभोपाल(मध्यप्रदेश)***************************************************** समस्या आजकल ‘आबादी नियंत्रण’ और ‘आबादी बढ़ाओ’ में एक बहस चल रही है। कुछ देश आबादी नियंत्रण के दुष्परिणामों को भोग रहे हैं, वहां बच्चे और बूढ़े दो […]

कब तक धर्म विशेष के कानून से शोषण ?

ललित गर्गदिल्ली************************************** आजादी के अमृत महोत्सव मना चुके भारत देश के सभी धर्मों के नागरिकों के लिए एक समान धर्मनिरपेक्ष कानून होना चाहिए। संविधान के संस्थापकों ने राज्य के नीति […]

यह आरोप कहां तक सही ?

अमल श्रीवास्तव बिलासपुर(छत्तीसगढ़) *********************************** लड़के ने तस्वीर माँगी और आपने दे दी,लड़के ने मोबाइल नंबर माँगा और आपने दे दिया, लड़के ने वीडियो कॉल के लिए कहा और आपने कर लिया, […]

कर्म को ही धर्म और मानव मूल्यों को समझने की जरूरत

राधा गोयलनई दिल्ली****************************************** आनंद लूट ले बंदे, तू प्रभु की बंदगी का,न जाने छूट जाए, कब साथ जिंदगी का।क्या धर्म का यही मर्म है कि प्रभु की बंदगी करते रहो। […]

बढ़ती जनसंख्याःक्या-क्या करें

डॉ.वेदप्रताप वैदिकगुड़गांव (दिल्ली) ******************************************* संयुक्त राष्ट्र संघ की ताजा रपट के मुताबिक दुनिया की आबादी ८ अरब से भी ज्यादा हो गई है। पिछले ५० साल में दुनिया की जनसंख्या जितनी […]

अपने विनाश को रोक लो, नहीं तो…

डॉ.अरविन्द जैनभोपाल(मध्यप्रदेश)***************************************************** अंतरराष्ट्रीय मांसहीन दिवस (२५ नवम्बर)विशेष… वर्तमान समय में रहन-सहन एवं खान-पान में काफी परिवर्तन हुआ है। लोगों ने तमाम प्रकार के जंक फूड के साथ-साथ अनेक जानवरों के […]

जलवायु संकट:अमीर देशों की उदासीनता खतरनाक

ललित गर्गदिल्ली************************************** जलवायु परिवर्तन के संकट से निपटने के लिए अमीर एवं शक्तिशाली देशों की उदासीनता एवं लापरवाह रवैया एक बार फिर मिस्र के अंतरराष्ट्रीय जलवायु शिखर सम्मेलन में देखने […]