कुल पृष्ठ दर्शन : 181

You are currently viewing रोजगार होना चाहिए

रोजगार होना चाहिए

कवि योगेन्द्र पांडेय
देवरिया (उत्तरप्रदेश)
*****************************************

चाहते हैं आप यदि, उन्नत समाज बने,
सुंदर सुशील व्यवहार होना चाहिए।
ज्ञान का प्रकाश, चहुंओर हो प्रकाशमान,
आचरण सभ्य, सदाचार होना चाहिए॥

जिसकी सुरक्षा हेतु, वीरों ने कटाया शीश,
उस पुण्य वसुधा से, प्यार होना चाहिए।
देश के विकास में ना, संकटों की घटा छाए,
युवाओं के लिए, रोजगार होना चाहिए॥