Visitors Views 78

श्रद्धासुमन

डॉ. अनिल कुमार बाजपेयी
जबलपुर (मध्यप्रदेश)
***********************************

मेरी सेना के योद्धा (केंद्र- जनरल बिपिन रावत)

हर नगर में हर डगर में,
बह रहे हैं नैन क्यूँ।
हो गए हैं मन विकल अब,
छिन गए हैं चैन क्यूँ॥
कौन-सा ये फूल जाकर,
गोद में प्रभु की खिला।
आसमां का था सितारा,
आसमां से जा मिला॥

परिचय– डॉ. अनिल कुमार बाजपेयी ने एम.एस-सी. सहित डी.एस-सी. एवं पी-एच.डी. की उपाधि हासिल की है। आपकी जन्म तारीख २५ अक्टूबर १९५८ है। अनेक वैज्ञानिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित डॉ. बाजपेयी का स्थाई बसेरा जबलपुर (मप्र) में बसेरा है। आपको हिंदी और अंग्रेजी भाषा का ज्ञान है। इनका कार्यक्षेत्र-शासकीय विज्ञान महाविद्यालय (जबलपुर) में नौकरी (प्राध्यापक) है। इनकी लेखन विधा-काव्य और आलेख है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *