Visitors Views 58

ई-संगोष्ठी शब्द उपयुक्त

मुद्दा-वेबिनार बनाम अपने शब्द

प्रो.शैलेंद्र शर्मा(उज्जैन)-

मैं राष्ट्रीय वेब संगोष्ठी का ही प्रयोग करता हूँ,यही उपयुक्त है। जैसे वेब पत्रिका,वेब पत्रकारिता,वेब मीडिया शब्द बहुप्रचलित हैंl

विज्ञानव्रत-

संजाल संगोष्ठी यह नाम बहुत अच्छा हैl

हरिसिंह पाल-

मेरी असहमति है। एक माध्यम के रूप में प्रयुक्त होता है। यह द्वमार्गी व्यवस्था नहीं है जबकि,संगोष्ठी संवादी व्यवस्था है। यूँ तो कोई भी शब्द प्रयोग में लाने के लिए स्वतंत्र हैं,लेकिन नया शब्द औचित्यपूर्ण होना आवश्यक है। एक शब्द दूरस्थ संगोष्ठी भी हो सकता है,लेकिन संजाल संगोष्ठी अधिक उपयुक्त है।

वीरेन्द्र कुमार यादव-

मुझे भी वेबिनार के लिए ई-संगोष्ठी शब्द उपयुक्त लगता है। सरल है,समझ में आता है। ई श्रृंखला के अनेक शब्द पहले से चल रहे हैं,इसलिए यह भी आसानी से चलेगा।

प्रेम अग्रवाल(अम्बाला)-

ई और वेब के स्थान पर भी किसी भारतीय भाषा का शब्द प्रयोग किया जाए। इस पर विचार करें।

डॉ. सुस्मिता भट्टाचार्य(दिल्ली)-

वेबिनार शब्द को यथावत हिंदी में स्वीकारना उचित नहीं है। अब जबकि वेबसाइट और इलैक्ट्रॉनिक शब्द हिंदी में मान्यता प्राप्त कर चुके हैं तो यह उचित होगा कि,ई अथवा वेब को उपसर्ग के रूप में हिंदी में प्रयोग की संभावनाओं तथा विभिन्न इलैक्ट्रॉनिक माध्यमों में शब्द का अधिकाधिक प्रयोग हो सके,इस दृष्टि से विचार करते हुए ई-संगोष्ठी अथवा वेब-संगोष्ठी में से किसी एक शब्द को मान्य करते हुए सभी के द्वारा प्रयोग में लाना चाहिए।

आरुणि त्रिवेदी(दिल्ली)-

ई-संगोष्ठी अच्छा है। मैंने एक और सोचा है,दूरगोष्ठी। इसमें पूरी तरह हिंदी है और साथ में सभी प्रकार की संगोष्ठियों,कार्यशालाओं,सम्मेलनों के लिए भविष्य में कई शब्द बनाए जा सकते हैं। ये कार्यक्रम दूर से बैठे-बैठे तो होते ही हैं,साथ ही इसमें सभी प्रकार के ऐप,वेब और वीडियो-टेली कॉन्फ्रेंसिंग भी शामिल किए जा सकते हैं। जैसे दूरमेलन,दूरगोष्ठी,दूरशाला,दूरकक्षा। शब्दों को छोटा करने के लिए मैंने कुछ अक्षरों का विलोपन किया है,ताकि लोगों की जिह्वा में आसानी से चढ़ सकें और इनके समकक्ष अंग्रेजी के शब्दों को विस्थापित कर सकें। सोचा बहुत था कि ‘वेबिनार’ में वेबसाइट का इन गोष्ठियों से कोई लेना-देना नहीं है। अतः वेबिनार में वेब से अधिक महत्त्वपूर्ण दूर से गोष्ठी है,जिसमें कई प्रकार के ऐप का प्रयोग होता है जिसका आधार इंटरनेट ही है। पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग भी होती थीं। इन दोनों के लिए ‘दूरगोष्ठी’ शब्द मुझे उपयुक्त लगा। कोई आवश्यक नहीं है कि हम अनुवाद ही करें,अपनी मौलिक सोच भी तो हो सकती है। केवल वेब शब्द का पूर्ण अर्थ नहीं है। वह वर्ल्ड वाइड वेब है।

(सौजन्य: वैश्विक हिंदी सम्मेलन,मुंबई)