antulata

Showing 10 of 23 Results

दृढ़ संकल्प अब करना होगा

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’ भोपाल (मध्यप्रदेश)******************************************************** विश्व शांति दिवस स्पर्धा विशेष…… धर्म के नाम पर दिलों में,क्यों नफरत फैलाते हो ?दो गज ज़मीन की खातिर,क्यों ज़मीर अपना गिराते हो ?अपने वर्चस्व की […]

स्त्री का अस्तित्व

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’ भोपाल (मध्यप्रदेश)************************************************************ हर बार तुम मुझे,वस्तु की तरह समझते रहेक्या तुम नहीं जानते थे,कि मैं एक जीवात्मा हूँ।मेरे सीने में भी दिल है,फिर भी तुम मुझेवस्तु की तरह […]

तुम अनजान हो मेरी मनोव्यथा से

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ तुम अनजान हो मेरी मनोव्यथा से, जो तुम्हारे बिना होती है मेरी, उसे जीती हूँ मैं। मुझे याद आते हैं, वो सभी पल जो […]

‘तालाबंदी’ की कहानी बच्चों की ज़ुबानी

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ ‘तालाबंदी’ ने बदली ज़िंदगी हमारी, अब हम हुए लाचार हैं। शिक्षा पद्धति बदली, व बदले इसके आयाम हैं। नेट,मोबाइल,कम्प्यूटर के, अब हम गुलाम हैं। […]

तब तेरी याद बहुत आती है माँ

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ ‘अन्तर्राष्ट्रीय मातृत्व दिवस’ १० मई विशेष………. जब मेरा मन उदास होता है, कुछ समझ नहीं आता है… तब तेरी याद बहुत आती है माँ…l […]

कहाँ हो तुम

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ कहाँ हो तुम…! मुझे यूँ अकेला छोड़ कर, मेरा तन्हाई से नाता जोड़ कर कि दिल ये उदास है, मन भी बेचैन है। कहाँ […]

ये कैसी मोहब्बत हुई है

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ हर बार सोचती हूँ, जब तुम अहंकार से भर जाते हो और मेरा तिरस्कार करते हो, जब छोटी-छोटी बातों पर तुम दिल मेरा तोड़ […]

पहले मुझे जीने तो दो

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ मैं कुछ कहना चाहती हूँ, मुझे कोख में पलने तो दो। मैं सब-कुछ कर सकती हूँ, मुझे कुछ करने तो दो। मैं अम्बर में […]

अब डरती नहीं हूँ मैं

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ जितने भी तुम ज़ुल्म करो, अब डरती नहीं हूँ मैं। मुश्किलें कितनी भी आएं, अब पीछे हटती नहीं हूँ मैं। निडर हो कर चलती […]

सोचा न था हमने,ऐसा भी दिन होगा

अंतुलता वर्मा ‘अन्नू’  भोपाल (मध्यप्रदेश) ************************************************************ हैदराबाद घटना-विशेष रचना…………. सोचा न था हमने,ऐसा भी एक दिन होगा, जिससे रक्षा माँग रही हो,वही तुम्हारा भक्षक होगा। बहुत दबोचा इन दरिंदों ने,तुमको […]