एहसास

ललित प्रताप सिंह
बसंतपुर (उत्तरप्रदेश)
************************************************
हर शख्स यहां पर खास होता है,
एक दिन सबको एहसास होता हैl 
इस तरह जी रहे हैं सब अभी तो,
मानो अकेले ही सब काम होता हैl 
 
मिट्टी में ही तो मिलना है सभी को,
ना जाने फिर क्यूं गुमान होता हैl 
मुद्दतों से लगने लगते हैं वो अपने,
पलभर में उनसे टकराव होता हैl 
 
कितना सुधार करें अपने-आप में,
कुछ तो उनका भी काम होता हैl 
धीरे-धीरे करके बिखर जाएंगे सब,
मुझको अब ऐसा आभास होता हैl 
 
‘ललित’ कहां तक सँभालूं मैं सबको,
अब मुझ पर नहीं उन्हें विश्वास होता हैll 
परिचय : ललित सिंह का निवास जिला रायबरेली स्थित ग्राम बसंतपुर (उत्तरप्रदेश)में है ।वर्तमान में बीएससी की पढ़ाई के साथ ही लेखन भी जारी है । लेखन में आपको श्रृंगार विधा में लिखना अधिक पसंद है । कई स्थानीय पत्रिकाओं में आपकी रचना प्रकाशित हुई है । ललित प्रताप सिंह का साहित्यिक उपनाम-ललित है। जन्मतिथि ४ जुलाई १९९९ और जन्मस्थान-होशियारपुर(पंजाब) है।कार्यक्षेत्र में आप विद्यार्थी हैं,तो लेखन विधा-कविता और ग़ज़ल जो श्रृंगार रस में लिखना हैl प्रकाशन में श्री सिंह का साझा काव्य संग्रह शीघ्र ही आने वाला हैl आप ब्लॉग पर भी अपनी बात रखते हैंl आपकी नजर में लेखनी का उद्देश्य-हिन्दी का प्रचार करना हैl

Hits: 29

आपकी प्रतिक्रिया दें.