कुल पृष्ठ दर्शन : 233

You are currently viewing सत्यवादी भारतीय

सत्यवादी भारतीय

श्रीमती देवंती देवी
धनबाद (झारखंड)
*******************************************

सत्यवादी भारतीय रक्षा के लिए, सदैव खड़े रहते हैं सीमा पर,
भारतीयों से सावधान रहो दुश्मनों, वरना गोली खाओगे सीने पर।

हम सब हैं हिन्दुस्तानी, सभी हिन्द देश के रहने वाले हैं,
अपनों के लिए मधुर हैं, दुश्मनों के लिए जहर के प्याले हैं।

संकट की घड़ी में हम भारतीय भाई-बहन, एक नहीं; अनेक हैं,
वसुन्धरा में हम भारतीय भाइयों-बहनों की, माता रानी एक हैं।

अपने पुत्रों के पास विराजी रहती हैं, मेरी भारत माता शेरावाली,
देश के लिए वीर शहीद हुए सीमा पर, माता आँचल की छाया डाली।

कहा हमारा सुन लो दुश्मनों, अब मनमानी तुम्हारी नहीं चलेगी,
भूल कर भी कदम आगे बढ़ाए तो, सरहद पर तुम्हारी चिता जलेगी।

चाँद पर नजर रखना अपने मन- मस्तिष्क से निकाल ही देना,
चंद्रलोक में विजयी विश्व तिरंगा झंडा है, कर देगा मुश्किल जीना।

वीर शहीदों भारतीयों के नाम किया है आजाद भारत का इतिहास,
अब तो सारे जहान के मालिक हैं हम, पावन धरती और आकाश।

हमारी परम पूजनीय भारत माता, सदैव ज्ञान की गंगा बहाती हैं।
विज्ञान का भंडार देकर हृदय में, चंद्रलोक का भ्रमण कराती हैं॥

परिचय– श्रीमती देवंती देवी का ताल्लुक वर्तमान में स्थाई रुप से झारखण्ड से है,पर जन्म बिहार राज्य में हुआ है। २ अक्टूबर को संसार में आई धनबाद वासी श्रीमती देवंती देवी को हिन्दी-भोजपुरी भाषा का ज्ञान है। मैट्रिक तक शिक्षित होकर सामाजिक कार्यों में सतत सक्रिय हैं। आपने अनेक गाँवों में जाकर महिलाओं को प्रशिक्षण दिया है। दहेज प्रथा रोकने के लिए उसके विरोध में जनसंपर्क करते हुए बहुत जगह प्रौढ़ शिक्षा दी। अनेक महिलाओं को शिक्षित कर चुकी देवंती देवी को कविता,दोहा लिखना अति प्रिय है,तो गीत गाना भी अति प्रिय है |