Visitors Views 14

२७ सित. को ‘सृजन ऑस्ट्रेलिया’ द्वारा अंतरराष्ट्रीय ई-संगोष्ठी

ऑस्ट्रेलिया।

रविवार २७ सितम्बर को सुबह ११ बजे विश्व हिन्दी सचिवालय (मॉरीशस) एवं न्यू मीडिया सृजन संसार ग्लोबल फाउंडेशन के सहयोग से ‘सृजन ऑस्ट्रेलिया’ अंतरराष्ट्रीय ई-पत्रिका द्वारा अंतरराष्ट्रीय ई(वेब)-संगोष्ठी आयोजित की जा रही है। इस संगोष्ठी का विषय ‘भारत की नई शिक्षा नीति और भाषा शिक्षण’ है।
ई-पत्रिका के प्रधान सम्पादक डॉ. शैलेश शुक्ला एवं मुख्य सम्पादक श्रीमती पूनम चतुर्वेदी शुक्ला ने यह जानकारी दी। आपने बताया कि,इसकी अध्यक्षता प्रो. आर.पी. तिवारी(कुलपति-पंजाब केन्द्रीय विश्वविद्यालय)करेंगे,तो मुख्य अतिथि प्रो. श्रीप्रकाश मणि त्रिपाठी(कुलपति-इ.गा.रा. ज.विवि,मध्यप्रदेश)होंगे। मुख्य वक्ता अनिल शर्मा(उपाध्यक्ष-केन्द्रीय हिंदी संस्थान,आगरा) तथा विशिष्ट वक्ता द्वय मुंबई विश्वविद्यालय के हिन्दी विभागाध्यक्ष प्रो. करुणाशंकर उपाध्याय(महाराष्ट्र)-संजय अग्निहोत्री (वरिष्ठ साहित्यकार-सिडनी,ऑस्ट्रेलिया) रहेंगे।
डॉ. शुक्ला के अनुसार सुप्रसिद्ध साहित्यकार डॉ. हरीश अरोड़ा(दिल्ली)बीज वक्तव्य देंगे। सचिवालय के महासचिव प्रो. विनोद कुमार मिश्रा ने इस संगोष्ठी में सभी को सादर आमंत्रित किया है।
आपने बताया कि,इसी दिन शाम ७.३० बजे (भारत) भी सचिवालय व फाउंडेशन के सहयोग से पत्रिका द्वारा ई-संगोष्ठी रखी गई है,जिसका विषय ‘वैश्विक संदर्भ में राम का नायकत्व’ है। इसमें बीज वक्तव्य प्रो. अरुण होता (हिंदी विभागाध्यक्ष-पश्चिम बंग राज्य विश्वविद्यालय,कोलकाता)देंगे। मुख्य वक्ता डॉ.राजेश श्रीवास्तव(भारत),विशिष्ट वक्ता प्रो. श्वेता दीप्ति(नेपाल)एवं विशिष्ट वक्ता डॉ. ओम गुप्ता (अमेरिका) रहेंगे। इसके लिए पंजीकरण कड़ी(लिंक)- https://forms.gle/qj4MooQNgwcnbe8Z7 से जुड़ा जा सकता है।