tripathi

Showing 10 of 83 Results

जीतना है…

कार्तिकेय त्रिपाठी ‘राम’इन्दौर मध्यप्रदेश)********************************************* आंधी-तूफान-अच्छा है कोरोना से,दिखता तो है। ढूंढना मत-कोई गुनहगार,कोरोना तो है।मन का बोझ-मत बनाना इसे,मारा जाएगा।टूटना नहीं-कोरोना को तोड़ना,करना योग।सुन कोरोना-मन है विचलित,अब हो विदा।इंसान बड़ा-अदना-सा […]

चाँद से मिलने की चाहत

कार्तिकेय त्रिपाठी ‘राम’इन्दौर मध्यप्रदेश)********************************************* चाँद से मिलने की चाहत हैऔर धरा पर खडे़ हुए हैं,बसा हुआ है मीलों ऊपरहम मन-दर्पण ताक रहे हैं।चाँद हमारे घर आने कोकब से है तैयार […]

जब से प्रेम किया

सारिका त्रिपाठीलखनऊ(उत्तरप्रदेश)**************************************** काव्य संग्रह हम और तुम से सारिका त्रिपाठी,लखनऊ/टैग-काव्य संग्रह हम और तुम से/कविता /शीर्षक- /सब ओल्डooooमैंने तुमसे,जब से प्रेम किया है-तुम्हारे नाम सेनहीं सम्बोधित किया किसी को..!मुझेइस नाम […]

प्रेम का धंधा कविता

कार्तिकेय त्रिपाठी ‘राम’इन्दौर मध्यप्रदेश)********************************************* काव्य संग्रह हम और तुम से…. प्रेम का धंधा ना हो मंदामन चंगा तो कटौती में गंगा,ऊंच-नीच का ना हो फंदामनभर बांटो प्रेम का चंदा।मन चंगा… […]

बेकरारी

एन.एल.एम. त्रिपाठी ‘पीताम्बर’गोरखपुर(उत्तर प्रदेश) ********************************************************* सुबह से शाम हो गयी इंतज़ार में,धूप की तपिश-छाँव में,हवाओं में तेरे आने की खुशबू वक्त गुजर गया बेकरार के इंतज़ार में। आए न आए […]

मोहब्ब्त का मसीहा हूँ

एन.एल.एम. त्रिपाठी ‘पीताम्बर’गोरखपुर(उत्तर प्रदेश) ********************************************************* मोहब्बत का मसीहा हूँ,सपनों का हूँ सौदागर,नफ़रत के दौर में प्यार का हूँ पैगाम। कहीं दोस्ती ही है दाग दामन का दोस्तों का मैं अरमाँ […]

बना दूँ दीवाना…

एन.एल.एम. त्रिपाठी ‘पीताम्बर’ गोरखपुर(उत्तर प्रदेश) *********************************************************** बहारों की मल्लिका हूँ,मेरा अंदाज़ है मस्ताना,                 गर ख्वाबों में आ जाऊं बना दूँ दीवाना। गुल हूँ मैं गुलशन की शाख पर बैठूँ गुलशन का […]

मेवाड़ मुकुट

एन.एल.एम. त्रिपाठी ‘पीताम्बर’  गोरखपुर(उत्तर प्रदेश) *********************************************************** ‘महाराणा प्रताप और शौर्य’ स्पर्धा विशेष………. राजपूताना ऐतिहासिक पृष्ठ भूमि, रक्त स्राव की धारा घाव की पीड़ा। युद्ध भूमि का पराक्रम,साहस,शक्ति,शौर्य की प्रतिष्ठा, परिभाषा […]

असली-नकली चेहरा!

एन.एल.एम. त्रिपाठी ‘पीताम्बर’  गोरखपुर(उत्तर प्रदेश) *********************************************************** किसी की आँखों शबनम जैसे बेवफा के आँसू, किसी के जख्म जहरीली मुस्कान। किसी का मुस्कुराता गम में भी चेहरा, औरों के गम पे […]

भारत की संस्कृति-संस्कार,ताकतवर हथियार

एन.एल.एम. त्रिपाठी ‘पीताम्बर’  गोरखपुर(उत्तर प्रदेश) *********************************************************** विश्व लड़ रहा युद्ध मची हाहाकार,ना मैदान युद्ध का-ना गोली-ना तोप-बारूद,ना बम वर्षा,ना एटमी हथियार की धमकी,ना मिसाइल की मार, घर में बैठा इंसान […]